अनुस्थापन पाठ्यक्रम banner image

अनुस्थापन पाठ्यक्रम

केन्‍द्र (सीसीआरटी) द्वारा अनुस्‍थापन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन देश के सभी अंचलों के माध्यमिक, उच्‍च माध्‍यमिक, माध्यमिक स्‍तर के उच्‍चतर विद्यालयों के सेवारत शिक्षक/शिक्षिकाओं तथा शिक्षक/शिक्षिका प्रशिक्षकों के लिए किया जाता है । इसमें अनेक प्रकार की गतिविधियां शामिल होती हैं, जैसे व्‍याख्‍यान, व्‍याख्‍यान प्रदर्शन, व्यवहारिक कक्षाएं और प्राकृतिक तथा सांस्‍कृतिक रूचि के स्‍थलों की शैक्षिक यात्राएं, इत्‍यादि । इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभागियों का परिचय हमारी समृद्ध कलात्‍मक और सांस्‍कृतिक सम्‍पदा की संरचना से कराया जाता है । यह प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रतिभागियों को भारत की रचनात्‍मक अभिव्‍यक्ति की विविध जानकारी देने हेतु इस दृष्टि से तैयार किया जाता है कि विद्यार्थियों को प्रकृति और कला में निहित सौन्‍दर्य से किस प्रकार अवगत कराया जाए ।

अनुस्‍थापन प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य:

  • राष्‍ट्रीय एकता की भावना जागृत करने के लिए भारतीय संस्‍कृति के विकास में निहित मूलभूत सिद्धांतों के प्रति जागरूकता उत्‍पन्‍न करना.
  • ऐसी प्रणालियों के निर्माण का अवसर प्रदान करना जिनमें भारतीय संस्‍कृति के विभिन्‍न पहलू ,रचनात्‍मक कार्यकलाप, शिक्षण और अध्‍यापन की प्र‍क्रिया का अभिन्‍न अंग हों.
  • शिक्षा को सर्वांगीण अनुभव बनाने के लिए प्रतिभागियों को विद्वानों और कलाकारों के साथ सम्‍बद्ध होने का अवसर प्रदान करना.
  • कक्षा में अपनाई जाने वाली शिक्षण तकनीकों को सुधारने के लिए रचनात्‍मक कार्य-कलापों में प्रशिक्षण देना.
  • देश के सभी अंचलों के शिक्षक/शिक्षिकाओं को विभिन्‍न विषयों के अध्‍यापन के लिए एक साथ मिलजुल कर काम करने का अवसर प्रदान करना ।

अनुस्‍थापन प्रशिक्षण पाठयक्रम के अन्‍तर्गत निम्‍नलिखित छ: प्रणालियां शामिल की गई हैं :-



योजनाओं